Custom Text

SSC क्या हैं? SSC Full Form in Hindi : SSC की तैयारी कैसे करे?

SSC का Exam अभी के समय मे काफी लोकप्रिय हैं। अगर आप SSC के बारे में नहीं जानते तो इस पोस्ट में हम आपको SSC क्या हैं, SSC की Full Form, SSC Exam के बाद Salary,SSC CGL Examination, SSC Full Form in Hindi,SSC का पूरा नाम Jobs, SSC Exam के लिए Eligibility,SSC Full Details In Hindi, ssc full information in hindi, SSC का Exam Attempt करने के लिए Qualifications, जैसी सभी जानकारी देने वाले है!
भारत का नाम सबसे तेजी से विकास कर रहे विकासशील देशों में गिना जाता है। अगर हमारे देश के पिछले कुछ शासकों ने सोच समझकर शासन किया होता और अपने देश को अन्य देशों के हाथों में न सौंपा होता तो शायद आज भारत दुनिया के सबसे विकसित देशों की लिस्ट में शामिल होता। लेकिन अब भी भारत कई देशों से काफी आगे है। भारत में विकसित देशों जैसे कि अमेरिका, जापान आदि के मुक़ाबले कम तकनीकी और सुविधाएं हैं जिसका एक बड़ा कारण यहां की जनसंख्या भी है।

SSC Kya hai ? : SSC Full Form in Hindi 

SSC Full Details In Hindi : भारत की जनसंख्या भारत के पिछड़े होने का सबसे बड़ा कारण है। बात भले ही गरीबी की हो या फिर बेरोजगारी की अंत में सभी की जड़ तेजी से बढ़ती हुई जनसंख्या है। भारत की तेजी से बढ़ती हुई जनसंख्या के कारण विश्व की सबसे ताकतवर सरकारों में से एक भारतीय सरकार भी लोगों को शत प्रतिशत रोजगार दिलाने में सफल नहीं हो पा रही। जो व्यक्ति मेहनत करता है वह तो सैकड़ों के बीच में से भी आगे निकल जाता है लेकिन जिस व्यक्ति का दिमागी स्तर कमजोर होता है वह अन्य के मुकाबले पीछे रह जाता है।
आज से कुछ सालों पहले हम एक ऐसे समय में थे जब लोग सरकारी नौकरियों की अधिक कदर नहीं किया करते थे और खुद का बिजनेस करना ही सर्वश्रेष्ठ मानते थे। आज भी कुछ लोग ऐसे हैं जो बिजनेस को भी बेहतर मानते हैं और सच कहा जाए तो अगर कोई व्यक्ति बिजनेस में माहिर है तो वह जितना सफल हो सकता हैं उतना कोई भी  नौकरी करने वाले व्यक्ति नहीं हो सकता। लेकिन आज का जमाना कंपटीशन का जमाना है। आज के समय में हर व्यक्ति नौकरी करना चाहता है।
वैसे तो प्राइवेट सेक्टर में भी अच्छी नौकरियों की कमी नहीं है लेकिन फिर भी लोग सरकारी नौकरियों के पीछे भागते हैं। हर साल कई वैकेंसीया निकलती है और पदों के मुकाबले कई गुना ज्यादा फॉर्म भरे जाते हैं। कई बार तो ऐसा भी देखा गया है कि भरे गए फॉर्म से ही सरकार को इतनी आय प्राप्त हो जाती है कि वह उन लोगो को ज़िन्दगी भर पेमेंट कर सकती हैं जो एग्जाम में पास होकर अधिकारी के तौर पर चुने जाते हैं।
हर व्यक्ति सरकारी नौकरी इसलिए पाना चाहता है क्योंकि एक बार सरकारी नौकरी लग जाने के बाद भविष्य सुरक्षित हो जाता है और व्यक्ति को किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं रहती। प्राइवेट नौकरी कभी भी आपके हाथ से छूट सकती है लेकिन सरकारी नौकरी में ऐसा नहीं होता। यह बात भी इसके अलावा सरकारी नौकरी में प्राइवेट नौकरियों के मुकाबले मेहनत भी कम करनी पड़ती है। यही कारण है कि हर कोई सरकारी नौकरी के पीछे भागता है। अगर आप भी सरकारी नौकरी में दिलचस्पी रखते हो तो आपने SSC के बारे में जरूर सुना होगा। एसएससी सरकारी नौकरी प्राप्त करने का ही एक माध्यम है, आज के इस पोस्ट में हम इस बारे में ही बात करने वाले हैं। इस पोस्ट में आज हम एसएससी की पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे!

SSC Full Form in Hindi – SSC का पूरा नाम

SSC Full Form in Hindi : SSC के बारे में आगे बात करने से पहले हम इसकी फुल फॉर्म जानेंगे। SSC एक Short और लोकप्रिय नाम हैं। SSC का पूरा नाम Staff Selection Commission हैं। वही SSC का हिंदी नाम (SSC Full Form in Hindi) ‘कर्मचारी चयन आयोग’ है।

SSC क्या हैं? What is SSC in Hindi

ssc full information in hindi : भारत एक बहुत ही बड़ा देश हैं जहा करोड़ो की जनसंख्या हैं। दुनिया के दूसरे सबसे अधिक जनसंख्या वाले इस देश को संभालने के लिए सरकार को अधिक से अधिक लोगों की जरूरत पड़ती है। इसी वजह से भारत में कई तरह की सरकारी नौकरियां भी है। भारत के हर राज्य के हर शहर के हर कोने में अलग अलग तरह के हजारो सरकारी ऑफिस हैं। इन ऑफिसो की तादात काफी ज्यादा हैं।
इन को संभालने के लिए और इनका काम लगातार जारी रखने के लिए लाखों कर्मचारियों की भी जरूरत पड़ती है। हर साल कई कर्मचारी रिटायर भी होते हैं तो हर साल नए कर्मचारियों की जरूरत पड़ती हैं। इसी कारण भारत सरकार ने Staff Selection Commission यानी की कर्मचारी चयन आयोग की स्थापना की। SSC यानी की कर्मचारी चयन आयोग का काम इसके नाम के अनुसार कर्मचारीयो का चयन करना ही हैं। एसएससी सरकार से जुड़े कामो व सरकारी योजनाओ को जारी करने के लिए कर्मचारियों का चयन अलग अलग तरह की परीक्षाओ के माध्यम से करता है।
SSC के बारे में यह बात जानना महत्वपूर्ण हैं की यह केवल ग्रुप B और ग्रुप C के कर्मचारियों का ही सिलेक्ष्ण करता हैं। अगर आप सरकारी नौकरी पाकर अपने जीवन लो सुखद बनाने की चाह रखते हैं तो आप SSC के जरिये अपने सपने पूरे कर सकते हैं। SSC की एग्जाम को क्लियर करके आप अपनी Exam के स्टैण्डर्ड के अकॉर्डिंग सरकारी जॉब प्राप्त कर सकते हैं और अच्छी सैलरी के हकदार बन सकते हैं।

SSC के बारे में साधारण जानकारी :

Staff Selection Commission का फॉर्मेशन 4 नवम्बर 1975 को हुआ था। इसका मुख्य हेड क्वार्टर देश की राजधानी नई दिल्ली में है। इसके अलावा इसके अन्य हेड क्वार्टर कोलकाता, दिल्ली, चेन्नई, इलाहाबाद, गुवाहाटी और बैंगलोर में भी हैं। इसके अलावा SSC के 2 उपक्षेत्रीय हेड क्वार्टर रायपुर और चंडीगड़ में भी हैं। SSC अलग अलग तरह की नौकरियों के लिए अलग अलग लेवल की Exams लेता हैं।
अगर थोड़ी नजर SSC के इतिहास पर डाले तो शुरुआत में 1967 से 1968 के बीच में पार्लियामेंट में सरकारी कर्मचारियों के चुनाव के लिए Staff Selection Commission की सिफारिश की गयी थी। 4 नवम्बर 1975 को आखिरकार इसका गठन किया गया लेकिन तब इसका नाम Subordinate Service Commission था जिसे बाद में 26 सितंबर को 1977 को बदलकर Staff Selection Commission कर दिया गया।

SSC का Exam Attempt करने के लिए Qualifications :

जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि एसएससी कोई एक तरह का एग्जाम नहीं होता बल्कि इसके अंदर कई तरह के एग्जाम होते हैं। यानी कि आप जिस तरह की सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते हो आपको उसके लिए उससे जुड़ा हुआ एग्जाम देना पड़ेगा। हर तरह के एग्जाम को अटेंड करने के लिए अलग-अलग तरह की Qualifications और Terms and Conditions होती हैं।

SSC में होने वाली Exams और उनकी जानकारी :

SSC में करीब 11 तरह की Exams होती हैं। इन सभी Exams से अलग अलग तरह के फील्ड जुड़े होते हैं। जैसे की किसी में आप Police में जाते हो तो किसी में Translator बनते हो! इन सभी ने अलग अलग Eligibility होती हैं, आइये जानते हैं उनके बारे में!

SSC CGL Examination :

SSC CGL की फुल फॉर्म Combined Graduate Level होता हैं। यानी की एक ग्रेजुएट व्यक्ति इस एग्जाम ही दे सकता हैं। इस एग्जाम को देने के लिए निर्धारित उम्र 18 से 30 साल तक की हैं। लेकिन कुछ पोस्ट्स के लिए यह ऐज लिमिट 32 तक की भी हैं। CGL की एग्जाम अटेम्प्ट करने के लिए आपके पास कम से कम एक Recognized University से बैचलर डिग्री का होना आवश्यक है। इसमें Exam 4 Tier में होता हैं : 1. Primary Exam 2. Mains Exam 3. Descriptive Paper 4. Data Entry Skills और Computer Proficiency Test. इन सबमे पास होने के बाद आपको नीचे बताई गयी जॉब्स मिल सकती हैं :
1. Assistant Audit Officer
2. Assistant Accountant Officer
3. Assistant Section Officer (Central Secretrait Service)
4. Assistant Section Officer (Ministry of Railways)
5. Assistant Section Officer (Intelligent Bureau)
6. Assistant Section Officer (Ministry of External Affairs)
7. Assistant Section Officer (AFHQ)
8. Assistant Section Officer (Other Ministries/ Departments/ Organizations
9. Assistant (Other Ministries/ Departments/ Organizations
10. Inspector of Income Tax
11. Assistant Enforcement Officer
12. Sub Inspector (Central Bureau of Investigation)
13. Divisional Accountant (Offices Under CAG)
14. Sub Inspector (National Investigation Agency)
15. Juniour Static Officer

SSC JE :

SSC JE का मतलब जूनियर इंजीनियर से हैं। एसएससी का यह एग्जाम पास करने के बाद हम भारतीय सरकार के इंजीनियरिंग से जुड़े हुए Goverment Posts प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिये हमारे पास Engineering में डिप्लोमा होना चाहिये। इस एग्जाम के जरिये हम के तरह के Govt Departments में Civil, Mechanical और Electronics में Junior Engineer बन सकते हैं।
इसके अंदर हमे केवल Junior Engineer की पोस्ट ही प्राप्त होती हैं। इसमें Junior Engineer (Civil, Electrical, and Mechanical), Central Water Commission and CPWD के लिए Age Limit 32 वर्ष तक की होती हैं। वही Junior Engineer (Civil, Electrical & Mechanical), MES के लिए Age Limit 30 वर्ष और आखिर में Junior Engineer (Civil and Electrical), Department of Post and Junior Engineer (Surveying and contract), MES के लिए 27 वर्ष तक होती हैं। कम से कम उम्र 18 वर्ष होनी चाहिये।

SSC JHT :

SSC JHT यह उन लोगो के लिए सबसे Most Awaiting परीक्षाओं में से एक है, जो हिंदी साहित्य में माहिर होते हैं और जिनके पास हिंदी लिटरेचर की डिग्री होती है। इसके लिए आपके पास हिंदी और अंग्रेजी दोनों में मास्टर डिग्री होना अनिवार्य है। अगर आप चाहे तो किन्ही दो अन्य भाषाओं में भी मास्टर डिग्री प्राप्त करके यह एग्जाम दे सकते हो। इसमें पास होने के बाद आपको एक ट्रांसलेटर के रूप में जॉब मिल सकती है। एग्जाम देने की Age Limit की बात करें तो वह 30 वर्ष तक की है।
एसएससी JHT की एग्जाम आप जिस जो करे दे रहे हैं उसी के हिसाब से आपकी क्वालिफिकेशन भी होनी चाहिए। इस एग्जाम को पास करनेके बाद आप Central Secretariat Official Language Service/ Ministry of Railways/ Armed Forces Headquarters/ Sub-Ordinate Offices में Junior Hindi Translator या Junior Translator बन सकते हो। इसके अलावा कई सारे गवर्नमेंट डिपार्टमेंट और ऑर्गेनाइजेशन में सीनियर हिंदी ट्रांसलेटर की जॉब भी मिल सकती है। इसके अलावा सबोर्डिनेट ऑफिस वगेरह में भी Junior Translator की जॉब मिल सकती हैं।
इसके अलावा सेंटर हिंदी ट्रेनिंग में आपको हिंदी प्राध्यापक जैसी जॉब भी मिल सकती हैं। इन सब Jobs की अलग अलग Requirements हैं यानी की कहीं पर आपको बैचलर डिग्री से ही जॉब मिल जाएगी तो कहीं पर आपको डिप्लोमा और मास्टर डिग्री की आवश्यकता होगी।

SSC GD Constable Exam :

SSC GD Constable, यह एग्जाम SSC के द्वारा ली जाने वाली सबसे अधिक रेपुटेशन वाली एग्जाम्स में से एक है। इस एग्जाम के द्वारा कैंडिडेट्स को BSF, CRPF, CISF, ITBP, SSF, SSB, NIA औए Assam Rifles में Riflemen को चुना जाता हैं। इस एग्जाम को देने के लिए आप की उम्र 18 से 23 वर्ष के बीच की होनी चाहिए। इसके अलावा इस एग्जाम को देने के लिए मिनिमम एजुकेशन क्वालीफिकेशन किसी मान्य बोर्ड से दसवीं पास होना है। जो लोग अपने देश की सेवा करना चाहते हैं वह इस एग्जाम को ही चुनते हैं।

SSC CPO Exam :

SSC CPO का पूरा नाम Central Police Organization होता हैं। इसके नाम से ही पता चल रहा है कि इस एग्जाम के बाद क्या होने वाला है यानी कि जब हम यह एग्जाम क्लियर कर लेंगे तो हमारी सीधे तौर पर पुलिस विभाग में जॉब लगेगी। एग्जाम को देने के लिए हमारे पास कम से कम किसी माननीय यूनिवर्सिटी की तरफ से प्राप्त हो बैचलर डिग्री होनी चाहिए और वहीं अगर इस एग्जाम को देने के लिए निर्धारित की गई Age Limit की बात करें तो वह 20 से 25 साल हैं। यानी कि आप 20 साल की उम्र के बाद इस एग्जाम को दे सकते हैं और 25 साल की उम्र पर करने से पहले दे सकते हो।
इस एग्जाम के द्वारा हम Sub Inspector (Executive) in Delhi Police, Sub Inspector in Central Armed Police Force (CAPF) और CISF (Cenrtal Industrial Security Post) में ASI की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इन सभी जॉब्स की  अच्छी सैलरी भी होती है लेकिन यह पास करना थोड़ा मुश्किल होता है क्योंकि इसमें अधिकतर फिजिकल टेस्ट भी लिया जाता है। जहाके लोग फैल हो जाते हैं।

SSC CHSL :

SSC CHSL का पूरा नाम Combined Higher Secondary Level होता हैं। यह एक्जाम उन छात्रों के लिए बेहतर मानी जाती है जो 12वीं पास करके जॉब करना चाहते हैं। इस एग्जाम को पास करने के बाद हमें LDC और Clerk जैसी जॉब मिलती हैं। यह Exam 2 Tier में होती हैं जिसमे से पहली Online Exam और दूसरी Descriptive Paper हैं। क्वालीफिकेशंस की बात की जाए तो इस एग्जाम को देने के लिए आपकी उम्र 18 से 27 वर्ष के बीच की होनी चाहिए।
इस एग्जाम को अटेंड करने के लिए आपके पास किसी माननीय बोर्ड के द्वारा प्रदान की गई 12वीं पास की मार्कशीट की जरूरत होती हैं। इसके अलावा अगर आप Conptroller and Auditor General of India के ऑफिस में डाटा एंट्री ऑपरेटर की जॉब करना चाहते है तो आपके पास साइंस स्ट्रीम की मार्कशीट और मैथ सब्जेक्ट होनी चाहिये। इसके अलावा डाटा एंट्री जॉब करने के लिए आपकी डाटा एंट्री की स्पीड 8000 Key Depression Keys होना चाहिए।

SSC MTS :

SSC MTS का मतलब Multi Tasking Staff होता हैं। एसएससी इस एग्जाम को पास करके हम Group C के Jobs जैसे की Central Government Ministries / Departments / Offices, in different States / Union Territories में Non -Ministry Post प्राप्त कर सकते हैं। इस एग्जाम में सिलेक्ट होने के बाद आप चपरासी, दफ्तरी, जमादार, फ़ाश, चौकीदार, सफाइवाला, माली, जूनियर जेस्चर ऑपरेटर जैसी नौकरीया करेंगे।
अगर इस एग्जाम के लिए Requirements की बात करे तो Exam को देने के लिए आपकी Age 18 से 25 वर्ष के बीच की होनी चाहिए। 25 वर्ष से अधिक की आयु वाले लोग इस Exam को नहीं दे सकते। अगर एजुकेशन क्वालिफिकेशन की बात की जाए तो इस एग्जाम को देने के लिए आपको कम से कम किसी मान्य बोर्ड से मैट्रिक परीक्षा पास होना चाहिए।

SSC Scientific Assistant Exam :

एसएससी द्वारा यह एग्जाम India Meteorological Department और Group-‘B’ के Non-Gazetted व Non-Ministerial के Scientific Assistant की Need को पूरा करने के लिए लिया जाता हैं। इस Exam को अटेंड करने के लिए आपकी उम्र 30 वर्ष से कम होनी चाहिए। 30 वर्ष की उम्र के बाद आप यह Exam नहीं दे सकते।
अगर Education Qualification की बात की जाए तो इस एग्जाम को देने के लिए आपके पास किसी Recognized University की तरफ से Science (फिजिक्स के साथ), Computer Science/Information Technology/ Computer Applications की बेचलर डिग्री या Electronics और Telecommunication Engineering में डिप्लोमा होना चाहिए।

SSC Exam में Pass होने के बाद Salary :

अब आप यह तो जान ही रहेगी एसएससी में अलग-अलग तरह के एग्जाम होते हैं और उनसे आपको अलग-अलग तरह की पोस्ट पर नियुक्त किया जाता है। एसएससी ग्रुप बी और ग्रुप सी का एग्जाम लेती है और दोनों ही ग्रुप की पोस्ट में काफी अंतर होता है। ग्रुप B में मिलने वाली Jobs की इनकम ग्रुप C में मिलने वाली Jobs की तुलना में ज्यादा होती है। यूपी एसएससी एग्जाम पास करने के बाद हम एक सरकारी नौकरी प्राप्त करते हैं इसलिए इसमें समय के साथ-साथ आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है। गवर्नमेंट द्वारा अलग-अलग पोस्ट की अलग-अलग सैलरी निर्धारित की गई है जो बदलती रहती है।

SSC का Exam Pattern कैसा होता हैं?

अभी के समय में हर कोई गवर्नमेंट जॉब प्राप्त करना चाहता है और लाखों लोग गवर्नमेंट जॉब प्राप्त करने के लिए एसएससी की एग्जाम की तैयारी भी करते हैं। बहुत ही तगड़ा कंपटीशन की वजह से हर सरकारी जॉब के कॉम्पटीशन एग्जाम की तरह एसएससी का Exam भी थोड़ा मुश्किल होता हैं। एसएससी में अलग अलग Posts के लिए अलग अलग Exam होते हैं जिनमे से कुछ बहुत Hard होते हैं तो कुछ Simple! साधारण तौर पर Group B की Jobs के Exam ज्यादा Hard होते हैं।
SSC के Exam के Tier 1 में आपकी General Intelligence and Reasoning, General Awareness, Quantitative Aptitude, English Comprehension को जाँचा जाता हैं। यह पूरा Exam 200 Marks का होता हैं जिसमे प्रत्येक सेक्शन के लिए 50 Marks विभाजित होते हैं।
SSC Exam के Tier 2 यानी की Mains Exam में Quantitative Aptitude, English Language और Comprehension, Statistics और Finance & Accounting व Economics & Governance से जुड़ी General Studies की जांच की जाती हैं। अधिकतर पोजिशन के लिए केवल Quantitative Aptitude, English Language और Comprehension का Exam होता हैं लेकिन कुछ पोजिशन के लिए Statics और Accounting व Economics & Governance से जुड़ी General Studies की Exam भी होता हैं।
Tier 3 में Offline Paper होता हैं जिसमे हमारी essay Writing, Letter Writing और Application Writing स्किल्स का भी Test लिया जाता हैं। Tier में हेनरी Computer Skills के टेस्ट जैसे की Data Entry Speed Test और Computer Proficiency Test आदि लिए जाते हैं। इसके अलावा कुछ खास Exams के लिए Interview और Physical Endurance Test भी लिया जाता हैं।

SSC की तैयारी कैसे करे? : SSC Preparation In Hindi

हर कोई गवर्नमेंट जॉब प्राप्त करना चाहता है और इस वजह से एसएससी के लिए भी काफी लोग तैयारी कर रहे हैं जिससे इसका कंपटीशन काफी ज्यादा बढ़ गया है। ऐसे में अगर आप SSC Exam क्लियर करना चाहते हो तो इसके लिए आपको अच्छी-खासी मेहनत की जरूरत होगी। अगर आप SSC की तैयारी करने जा रहे हैं ठमारे द्वारा कुछ Tips नीचे बताई गयी हैं जिन्हें फ़ॉलोर जरूर करे!
1. अपने सिलेबस को समझे : किसी भी एग्जाम को क्लियर करने के लिए उसके सिलेबस को समझना बहुत ही जरूरी होता है। कई बार एग्जाम्स की डेट करीब आ जाने के बाद भी लोग अपने एग्जाम सिलेबस को नहीं समझ पाते और ऐसे में उन्हें असफलता का सामना करना पड़ता है। इसलिए जरूरी है कि आप अपने एग्जाम सिलेबस को अच्छी तरह से समझ गए उसके बाद तैयारी करें।
2. टाइम टेबल बनाये : अधिकतर लोग जो गवर्नमेंट जॉब प्राप्त करने में सफल होते हैं उन सब का कहना है कि टाइम टेबल बनाना सफलता की प्राप्ति के लिए पहला कदम होता। आप एसएससी के एग्जाम की तैयारी करना चाहते हो उससे जुड़ी सभी विषयों का आपको आपके टाइम टेबल के अनुसार अध्ययन करना होगा। टाइम टेबल बनाने से आपकी पढ़ाई का स्तर बढ़ जाएगा।
3. जनरल नॉलेज और करंट अफेयर्स पर ध्यान दे : चाहे बाद किसी भी तरह की गवर्नमेंट एग्जाम भी हो लेकिन उसके लिए आप की जनरल नॉलेज और करंट अफेयर्स की नॉलेज अच्छी होनी चाहिए। जनरल नॉलेज की तैयारी के लिए बाजार में कई तरह की किताबे मिल जाएगी। वहीं दूसरी तरफ करंट अफेयर्स की तैयारी के लिए आप अखबार और मैगजीन को पढ़ सकते हैं। इसके अलावा इंटरनेट के माध्यम से भी आप खबरें पढ़ सकते हैं।
4. पढ़ाई पर Focus करे : बाहरी दुनिया में कई तरह के आकर्षण है जो आपकी सफल होने से रोकते हैं। किसी भी तरह की सरकारी नौकरी की तैयारी करना एक मामूली बात नहीं होती क्योंकि इसके लिए हमें काफी मेहनत करनी पड़ती है। ऐसे में आपको बाहरी दुनिया के आकर्षणों से बचकर केवल अपनी पढ़ाई पर Focus करना होगा तभी आपको सफलता हासिल होगी।
5. Notes तैयार करे : अगर आप एसएससी की तैयारी करना चाहते हो तो आप इसके लिए कोई अच्छी कोचिंग ज्वाइन कर सकते हो वरना खुद भी नोट्स तैयार कर सकते हो। Notes तैयारी करने से आपको पढ़ने में आसानी रहती है और खुद के द्वारा बनाए गए Notes भी हमें जल्दी आ करते हैं।
6. सभी सब्जेक्ट्स को उचित समय दे : कई बार ऐसा देखा जाता है कि लोग मुख्य और हार्ड सब्जेक्ट में तो पास हो जाते हैं लेकिन साधारण दिखने वाली सब्जेक्ट में रह जाते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप हार्ड सब्जेक्ट्स को तो अधिक Priority दे लेकिन दूसरी सब्जेक्ट जो आपको सिंपल लगती है उनको भी उचित समय दें।

अपना जवाब लिखें

Please enter your comment!
यहाँ अपना नाम डाले !